विभाग विवरण

दवा निर्माण

उद्देश्य

·         इसका मुख्य उद्देश्य  उच्च गुणवत्तायुक्त आयुर्वेदिक औषधियों का निर्माण करना जो कष्टसाध्य रोगों का नाश करे | सम्भावना दवा निर्माण शाला में जहरीले रसायनों के विषों से मुक्त करने वाली दवाओं का निर्माण करना है जिससे यूनियन कार्बाइड के द्वारा गैस एवं भू-जल पीड़ितों का इलाज आयुर्वेदिक औषधियों द्वारा किया जा सके |

 

विशेषता

अपनी निम्न विशेषताओ के कारण सम्भावना की आयुर्वेद फार्मेसी अन्य आयुर्वेद संस्थाओं से भिन्न है।

1.       शास्त्रोक्त विधियों द्वारा औषधियों का निर्माण करना।

2.       किसी भी प्रकार की भारी धातुएँ एवं भस्मों का जैसे पारा, गंधक इत्यादि का उपयोग औषधियों में नहीं किया जाता है।

3.       आधे से अधिक जड़ी-बूटियाँ सम्भावना के बगीचे से ही प्राप्त की जाती हैं। जो जैविक तरीकों से उगाई जाती हैं।

4.       उपयोग से पहले एवं बनने के बाद सभी औषधियों का गुणवत्ता परीक्षण किया जाता है। गुणवत्तापूर्ण होने पर ही मरीजों को दिया जाता है।

5.       जड़ी-बूटियों या निर्मित औषधियों को सुरक्षित रखने के लिए किसी भी प्रकार की रासायनिक प्रक्रिया एवं तत्वो का उपयोग नहीं किया जाता है।

6.       जड़ी-बूटियों का शास्त्रोक्त विधि एवं मौसम के अनुसार संग्रह किया जाता है।

7.       गुणवत्ता को उचित बनाए रखने के लिए आवश्यकतानुसार समय-समय पर आधुनिक तकनीक का उपयोग किया जाता है।

8.       निर्माण शाला में समय-समय पर स्वास्थ्य परीक्षण किया जाता है एवं स्वस्थ पाए जाने पर ही कार्य करने की अनुमति दी जाती है।

9.       मशीनों पर कार्य करते हुए फोटो:
 
नए फोटो लेना है एवं वीडियो बनाना है कार्य करते हुए।
औषधियों की गुणवत्ता जाँच का तरीका:

 

दवा निर्माण में कुल 81 प्रकार की दवाओं का निर्माण किया जाता है। वह इस प्रकार हैं:-

 

                        औषधिक का निर्माण     -      संख्या

                        मिक्स चूर्ण            -      19 प्रकार के

                        एकल चूर्ण             -      19 प्रकार के

                        तेल                  -      12 प्रकार के

                        वटी एवं गुग्गुल         -      27 प्रकार के

                        पाक                  -      2 प्रकार के

                        मलहम               -      1 प्रकार का

                        च्यवनप्रा             -      1 प्रकार का

 

 

विश्वमोहन द्विवेदी,    गजेन्द्र शाक्य,    ललिता शर्मा,    अंकित मिश्रा